Share

दीपावली पर वास्तु के मुताबिक सजाएं घर, होगी आर्थिक तरक्की

दीपावली पर वास्तु के मुताबिक सजाएं घर, होगी आर्थिक तरक्की

भगवान राम के अयोध्या वापस लौटने की खुशी में दीपावली का पर्व मनाया जाता है। रामायण के अनुसार इसी खुशी में अयोध्या वासियों ने पूरे नगर को दीपों से सजाकर दीपोत्सव मनाया था।

प्रत्येक व्यक्ति की चाह होती है कि मां लक्ष्मी के आशीर्वाद से उसके घर में रखा जाने वाला धन का भंडार हमेशा भरा रहे- इसके लिए प्रत्येक हिंदू धन की देवी की कृपा पाने के लिए दीपावली की रात को मां लक्ष्मी की विशेष रूप से पूजा-अर्चना और उपाय करता है- बात करें यदि आपके धन रखने वाले स्थान की तो वास्तु के अनुसार इसका चयन करते समय आपको विशेष ध्यान रखना चाहिए- अमूमन लोग अपना पैसा और गहना ​किसी तिजोरी या आलमारी में रखते हैं- यदि आपको लगता है कि आपकी तिजोरी में पैसा नहीं टिकता है या फिर आपके उपर मां लक्ष्मी की कृपा नहीं बरस रही है तो आप इस साल दीपावली पर अपने धन रखने वाले स्थान से जुड़ा ये सरल सा उपाय अवश्य करें ।

इसके साथ इस दिन घरों में मां लक्ष्मी के आगमन का भी विधान है। इसलिए लोग दीपावली पर घरों की साफ-सफाई कर तरह-तरह से सजाते हैं। हम आपको बताने जा रहे हैं वास्तु के कुछ ऐसे टिप्स जिनका इस्तमाल आपको इस दीपावली पर घर को सजाने में करना चाहिए। वास्तुशास्त्र के मुताबिक साज-सज्जा करने से न केवल आपका घर संतुलित और संयोजित होगा बल्कि सुख – समृद्धि का भी आगमन होगा ।

1-दीपावली पर घर की सजावट करते समय मेन गेट पर भगवान गणेश का चित्र या सूर्य यंत्र लगाएं। ऐसा करने से घर में आने वाली सभी बाधांए और संकट स्वतः दूर हो जाएंगी।

2-ड्राईंग रूम में फर्नीचर और भारी सामान दक्षिण-पश्चिम की दिशा में रखें और खिड़की दरवाजों में हल्के रंग के पर्दे लगाएं। घर में पॉजिटिविटी बनी रहेगी।

3- बेडरूम की सजावट करते समय इसका रंग हल्का गुलाबी या बैंगनी रखना चाहिए और बेड रूम में राधा कृष्ण की तस्वीर लगानी चाहिए। आपसी प्रेम प्यार बना रहता है और संबंध मजबूत होते हैं।

4- दीपावली पर मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए लक्ष्मी जी की तस्वीर घर की उत्तर दिशा की दीवार पर लगाएं। कमल के आसन पर बैठी हुई और हाथ से सोने से सिक्के गिराती हुई धन लक्ष्मी की तस्वीर लगाना सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है।

5- नौकरी या व्यवसाय में दिक्कत आरही हो तो घर की उत्तर पूर्व दिशा में हरे रंग का फूलदान रखें या कोई पौधा लगाएं। व्यावसाय में उन्नति के बंद द्वार खुल जाएगें।

6- घर की उत्तरी या पूर्वी दीवार पर शीशा या आइना लगाएं, इससे घर के आय के स्त्रोत में वृद्धि होगी।

7- घर के हर कमरे में रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए और दीवार की सीलन को दूर करने का प्रयास करें। दीवारों की सीलन आर्थिक तंगी का कारण बनती है।

8- वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में रुकी हुई घड़ी रखना अशुभ माना जाता है. चलती हुई घड़ी सुख और तरक्की का प्रतीक होती है. अगर आपके घर में कोई बंद या टूटी हुई घड़ी हो तो उसे दीपावली से पहले घर से हटा दें ।

9- घर में टूटा हुआ फर्नीचर रखना अशुभ होता है. इससे घर पर बुरा प्रभाव पड़ता है. आपके घर में अगर कोई टेबल, कुर्सी या बेड टूटा हुआ है तो उसे घर से बाहर निकाल दें. इसके अलावा ये भी ध्यान रखें कि घर का फर्नीचर हमेशा सही स्थिति में होना चाहिए ।

10- वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में टूटी हुई मूर्ति बिल्कुल भी नहीं रखें. दिवाली से पहले आप जांच कर लें कि कहीं आपके घर में रखी भगवान की कोई मूर्ति टूटी तो नहीं है. अगर ऐसा है तो उसे हटा दें और घर में भगवान की नई मूर्ति स्थापित करें. ये आपके और आपके परिवार के लिए शुभ होगा ।

11- इस बार दिवाली की सफाई में घर में रखे फटे-पुराने जूते चप्पल बाहर कर दें. फटे चप्पल और जूते घर में नेगेटिव एनर्जी फैलाते हैं ।

12-  वास्तु शास्त्र के अनुसार, धनतेरस से लेकर भाई दूज तक घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं और दहलीज को हल्दी और अक्षत का लेप करें और फिर रोली से दोनों ओर स्वस्तिक का चिन्ह बनाएं। ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और घर में सुख-समृद्धि आती है।

13- नतेरस से लेकर यम द्वितीया तक पांच दिन 5 दीपक (4 छोटे और एक बड़ा) आसन पर रख लें और फिर खील, चावल रखकर उस पर ये दीपक सायंकाल के समय घर की उत्तर दिशा की ओर जलाकर रखें। उत्तर दिशा माता लक्ष्मी दिशा की मानी जाती है। इस दिन में दीपक जलाने से मां स्वयं घर में प्रवेश करती हैं और आशीर्वाद देती हैं।

14- वास्तु शास्त्र के अनुसार, धनतेरस से लेकर भाई दूज तक अकीक के 54 दानों की माला हर रोज माता लक्ष्मी की तस्वीर या प्रतिमा के सामने रखने से धन लाभ होता है और माता लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

15- वास्तु के अनुसार धन के देवता कुबेर का स्थान उत्तर दिशा में माना गया है. उत्तर दिशा में कुबेर के प्रभाव से धन की सुरक्षा होती है और समृद्धि बनी रहती है. ऐसे में अब तक आप चाहे जिस भी दिशा में धन रख रहे थे, उसे अब बदलकर उत्तर दिशा में कर दें और अपनी नकदी हमेशा उत्तर दिशा में ही रखें ।

16- वास्तु के अनुसार धन के देवता कुबेर का स्थान उत्तर दिशा में माना गया है. उत्तर दिशा में कुबेर के प्रभाव से धन की सुरक्षा होती है और समृद्धि बनी रहती है. ऐसे में अब तक आप चाहे जिस भी दिशा में धन रख रहे थे, उसे अब बदलकर उत्तर दिशा में कर दें और अपनी नकदी हमेशा उत्तर दिशा में ही रखें ।

17 – प्रत्येक व्यक्ति के लिए धन रखने के लिए अलग कमरा बनवाना संभव नहीं है- ऐसे में यदि आपके घर में जगह की कमी हो या फिर आप किसी छोटे से फ्लैट या किराये के कमरे में रहते हों तो अपने धन को उसी कमरे के उत्तर दिशा में रखें ।

18- धन से जुड़ी एक मान्यता यह भी है कि नकदी को हमेशा उत्तर दिशा में रखना चाहिए क्योंकि वह हल्का होता है- वहीं रत्न, आभूषण आदि को दक्षिण दिशा में रखना चाहिए क्योंकि यह वजन और मूल्य में अधिक होता है, जिसके लिए अक्सर लोग भारी तिजोरी का प्रयोग करते हैं और भारी चीज के लिए वास्तु में हमेशा दक्षिण दिशा को सही माना जाता है- ऐसे में आप चाहें तो अपने रत्न और आभूषण को दक्षिण दिशा में रख सकते हैं ।

19 – घर में जिस स्थान पर पैस रखते हों आलमारी या फिर घर की तिजोरी, उसके दरवाजे पर महालक्ष्मी की चमत्कारी फोटो लगाएं. घर में लगाई जाने वाली मां लक्ष्मी की फोटो हमेशा ऐसी होनी चाहिए, जिसमें धन की देवी बैठी हुई हों- यदि संभव हो तो माता लक्ष्मी की ऐसी फोटो लाएं जिसमें साथ ही दो हाथी सूंड उठाए नजर आते हों. ऐसा फोटो लगाने पर आपके घर पर महालक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहेगी और पैसों की कमी कभी नहीं आएगी ।

20- दीपावली वाले दिन स्वयं को उन सभी अधार्मिक कार्यों से दूर रखें- दीपावली के दिन मांस, मदिरा, जुआं आदि से दूर रहें ।

21- दीपावली की पूजा से पहले आप अपने उस कमरे को विशेष रूप से कलर करवाएं, जिसमें तिजोरी या कैश रखते हों- धन रखने वाले कमरे को हल्के क्रीम रंग से पेंट करने पर बहुत शुभ रहता है ।

सुख-समृद्धि और संपन्नता का प्रतीक माने जाने वाले इस त्योहार को अगर वास्तु के अनुसार सजाएंगे तो मां लक्ष्मी घर में बरकत करेंगी।

Share post:

Leave A Comment

Your email is safe with us.